कर्मचारी संघछत्तीसगढ़लोरमीशिक्षा

प्रधानपाठक के सेवानिवृत्त होने पर गांव वालों ने शोभायात्रा निकालकर, आरती करके दी शानदार विदाई.

मानियारी टाईम्स न्यूज़ 24…

सम्मान समारोह।

सत्र के अंतिम दिन विश्वनाथ योगी प्रधानपाठक शास.पूर्व माध्य.शाला सेमरसल के सेवानिवृत्ति होने पर शिक्षकों ने ग्रामवासियों ने एवं छात्र-छात्राओं ने भव्य शोभायात्रा निकालकर उन्हें श्रद्धापूर्वक विदाई दिया। आपको बता दें कि विश्वनाथ योगी 1985 से शिक्षा विभाग में कार्यरत थे 30 अप्रैल 2024 को उनका सेवा कल का अंतिम दिवस था इस खास मौके पर उनके कर्तव्य परायणता सेवा भावना अनुशासन प्रियता मिलनसार गुण और छात्र-छात्राओं के प्रति हित चिंतक होने पर ग्रामवासियों ने 12 साल के उनके कार्यकाल को याद करते हुए कल शाम को उन्हें भावभीनी विदाई दी। घरों से निकल करके माता बहनों ने पूरे परिवार के साथ मिलकर दिया आरती सजाकर चंदन लगाकर कुछ ना कुछ भेंट दे करके उनका सम्मान किया। किसी नेता अभिनेता के काफिले में लोगों की भीड़ आपने जरूर सुनी होगी लेकिन एक शिक्षक के सेवानिवृत होने पर पूरा ग्रामवासी उमर पड़े यह अपने आप में सुखद आश्चर्य है कि लोगों का प्रेम शिक्षकों के लिए शिक्षा के लिए बहुत ही यादगार पल बना दिया गया। सर्वप्रथम शिक्षकों ने इस विदाई बेला में सम्मान समारोह का आयोजन करके उनके साथ बिताए हुए अपने अनुभवों को साझा किया और सबने सप्रेम भेंट भी दिया। शाला स्टॉफ ने भगवान श्री रामलला का विग्रह भेंट किया उनके परिवार से भी उनकी पत्नी उनके बच्चे आए हुए थे उनको भी शाला परिवार ने संकुल समन्वयक ने उन्हें भेंट स्वरूप सामग्री प्रदान किया। पूर्व प्रधानपाठक बुधराम साहू वर्तमान में पदस्थ अमोलदास लहरे, मेलाराम कश्यप, समाजसेवी नरेश अग्रवाल, दयाराम साहू, शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष गोविंद साहू, महेत्तर कश्यप, हरिशंकर मिश्रा, दिलहरण मरावी, चंद्रेश कश्यप और नरेंद्र कश्यप ने भी विश्वनाथ योगी को अपनी भावपूर्ण शब्दों से उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं प्रेषित किए। सभी शिक्षकों को श्रीफल व कलम भेंट करके इस अवसर पर सम्मानित किया गया। उसके पश्चात बैंड बाजे गाजे के साथ भव्य शोभायात्रा पूरे ग्राम का भ्रमण किया गया जिसमें महिलाओं ने अपने द्वार पर रंगोली सजाकर आरती करके और चंदन टीका लगा करके योगी सर का भावपूर्ण स्वागत किया। उन्हें सेवा काल में किए हुए कामों के लिए उनका सम्मान भी किया है कि एक शिक्षक को इतना भव्य तरीके से रैली निकालकर जन सैलाब उमर पड़ना क्षेत्र में यह चर्चा का विषय है कि एक शिक्षक यदि अपना काम परिश्रमपूर्वक और ईमानदारी से करता है तो समाज भी उन्हें आदर और सम्मान देता है। छोटे-छोटे बच्चों ने बहुत ही स्नेहिल भाव से उनका आशीर्वाद लिया युवाओं ने उनके साथ फोटो खिंचवाए माता बहनों ने अश्रुपूर्ण विदाई प्रधान पाठक को दी। शाला के स्टॉफ राकेश पांडेय,राजकुमार कश्यप,पुष्पा चतुर्वेदी, उमाशंकर सिंह राजपूत,व्याख्याता रेणु पांडेय,संकुल समन्वयक रामकुमार साहू,हेड क्लर्क कुर्रे,संपत लाल डडसेना,मोरध्वज सिंह,गजेंद्र आदिले,स्मिता क्षत्री,ललिता शर्मा,प्रधानपाठक उर्वशी कश्यप,रमेश मानिकपुरी ग्रामवासियों में दुर्जन कश्यप,विजय निषाद,रामू पटेल फौजी,अरुण साहू मसना,ताम्रध्वज कश्यप देवरहट,इतवारी साहू गुरुवाइन डबरी,गणेश प्रसाद साहू सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित रहे।

You cannot copy content of this page