छत्तीसगढ़

महिला ने पानी की तलाश में मासूम को जंगल मे छोड़कर रास्ता भटक गई ! चार दिन बाद मिली लाश..पुलिस जांच में जुटी..

मानियारी टाईम्स न्यूज़ 24

माशूम बच्ची

लोरमी 11.05.24 – एटीआर वनक्षेत्र ग्राम बोइरहा में दिल दहला देने वाली सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। चार दिन पूर्व गायब एक साढ़े तीन वर्षीय बच्ची की लाश मिली है। महिला सरपंच दो बच्चों के साथ जंगल किसी कारण से चली गई थी। माँ ने अबोध को जंगल मे सुलाकर पानी तलाश में गई थी,वापसी बच्चे को सुलाने वाला जगह से भटक गई। मासूम की लाश मिलने पर क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

पुलिस से मिली जानकारी के खुड़िया चौकी क्षेत्र अंतर्गत 6 मई को सुबह 9 बजे बोइरहा ग्राम पंचायत के सरपंच संगीता पति देवराम गोंड निवासी ग्राम पटपरहा किसी कारण से अपने साढ़े तीन वर्ष के बेटी अनुष्का एवं एक वर्षीय पुत्री भारती को लेकर जंगल मे चली गई। बच्ची व माँ को गर्मी के कारण प्यास लगी,तो पहाड़ से देखने पर एक तलाब नजर आया माँ ने उसी जगह में (मृतिका) साढ़े तीन वर्षीय अनुष्का को सुलाकर उस तालाब में पानी लेने चली गई,वापसी जिस जगह में बच्ची को सुलाई थी,रास्ता भटक गई,माँ ने देर शाम तक अपने बच्ची की तलाश किया नही मिलने पर रात 8.30 बजे घर लौटकर आपबीती परिजन को सुनाई।

रात में ही 60 से 70 ग्रामीणों ने तलाश प्रारंभ किया नही मिलने पर पुरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया।चुनाव से दो दिन तक परिजन अपने जिगर के टुकड़े को तलाश करते रहे लेकिन नही मिला। उक्त घटना की जानकारी खुड़िया चौकी व वनविभाग को भी दिया गया। पूरी टीम तलाश में जुटी रही।

9 मई को शाम 5 बजे ग्रामीणों ने पहाड़ के नीचे उस बच्ची मृतावस्था में बरामद किये। अबोध के मुंह व अन्य हिस्सों में चींटी व दनियार ने जगह बनाना प्रारंभ कर दिया था। ग्रामीणों ने बताया की जिस स्थान पर बच्ची को सुलाया गया था, पहाड़ से नीचे गिर गईं थी!
ज्ञात हो कि आखिर महिला जंगल अपने मासूम बच्चियों के साथ क्यो भीषण गर्मी में बीहड़ मे क्या करने गई थी?-क्या पति पत्नी के बीच विवाद हुआ था ? ये जांच का विषय है। पुलिस ने बताया कि मासूम के शरीर पर चोंट या अन्य जख्म नही पाया गया है। मासूम की किन परिस्थितियों में मृत्यू हुई ये जांच व पोस्टमार्डम रिपोर्ट में खुलासा होगा।

पुलिस ने शुक्रवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मृत बच्ची का पंचनामा कर पीएम करवाकर परिजन को सौंप दिया गया।
चौकी प्रभारी एस.एल.गोरले पुलिस ने धारा 174 के तहत मर्ग कायम कर मामले की विवेचना में जुट गई है।

एसडीओपी माधुरी धीरही ने बताया कि घरेलू विवाद में महिला जंगल के रास्ते अपने मायके जाने दो बच्चों के साथ निकली थी। एक बच्ची को जंगल मे अकेले सोता हुआ छोड़कर पानी की तलाश में गई थी,वापसी रास्ता भटक गई। जिसकी लाश चार दिन बाद मिली है। पुलिस मामले की विवेचना में जुटी गई है।

You cannot copy content of this page